loading...

मां बेटे की सेक्स कहानियों

हेलो दोस्तों, आज जो मां बेटे की चुदाई कहानी बताने जा रहा हू वो मेरी चाची  की चुदाई की हैं, जो चाची ने अपने लड़के से चूत मरवाई . मेरी उम्र 18 साल   की  है  और  मैं  अपनी  माँ    के   साथ   अकेला      रहता  हूँ   पापा  फौज  में  है  जिस  वजह  से  वो  साल   में  2 या   3 बार  ही    ghar   आते  है  और  जब  भी  आतें  है  तो  मम्मी  की  जमकर  चुदाई  करते  है  मेरी  मम्मी  की  ऐज   भी  अभी  ज्यादा  नहीं  थी  वो  कम  ऐज   में  शादी   हो  जाने के कारन  वो  अभी   सिर्फ    36 साल  की  ही  थी  और  उनका    फिगर  बहुत  मेंटेन  था   उनको देखकर  किसी  भी  जवान  और  बुड्डे   के  जोश  आ  सकता  है  और  उनकी  चूची  भी  अभी  ज्यादा  बड़ी  नाहि   थी  हमारे  पड़ोस   में  एक   चाची   रहती  थी  जिनकी  ऐज   करीब  40 साल  की  रही  होगी  जब  पापा  नहीं  रहते  तो  वो  अक्सर  घर  आ  जाया  करती  थी  एक  दिन  जब  मैं  नह  रहा  था   तब  चाची  आ  गयी  और  मम्मी   से  बातें  करने  लगी

और  तब  वो  बोली  की  करीना  एक  बात  बताओ  जब  तुम्हारे
 पति  चले  जाते  है  और  महीनों  के  बाद  आते  है  तब  तुम  क्या  करती  हो  तब  मम्मी  बोली  की  करना  क्या  है  बस  बर्दास्त  करती  हूँ  आग  लगी  रहती  है  और  उनकि  याद  बहुत  आती   है  तो  मोमबत्ती  से  काम  चला  लेती  हूँ  और  फिर  मां   ने  चाची   से  पुछा  जब  तुम्हारे  पति  बहार  जाते  है  तब  आप  क्या  करती   हो ?  और  दोस्तों ये कहानी आप निऊहिंदीसेक्सस्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। मैं  नह  चूका  था  पर  फिर  भी  दोनों  की  बातें  सुनने  को  वहीँ  रुक  रहा  और  फिर  मैंने  चाची   की  आवाज़  सुनी  की  भाई  मैं  तो  अपना  मसला  हलकर   लेती  हूँ  तेरी  तरह  मोमबत्ती  से  काम  नहीं  चलाती  हूँ  तब  मम्मी  ने  पुछा  की  भला  कैसे ?तब  चाची   बोली  की  मैं  अपने  बेटे  वीरू  से  अपनी  प्यास  शांत  करती  हूँ  मम्मी  ने  पुछा  की  मतलब  क्या  तू  अपने  बेटे  से  चुदवाती  है ?तब  चाची   बोली  हाँ  मेरी  रानी  बहुत  मज़ा  आता  है  वीरू  से  चुदवाने  में  बहुत  मोटा  और  लम्बा  है  उसका  लंड  पूरी  तरह  से  जवान  कर  देता  है  मुझे  तो  वो  तब  मम्मी  ने  कहा  हटिये  मुझे  शर्म  आती  है  तब  चाची   ने  मम्मी  की  चूची  को  पकड़  लिया  और  मसलने  लगी  तब  मम्मी  आआअह  आआअह  करने  लगी  कहने  लगी

 की  रहने  दो  चाची   काहे  आग  लगा  रही  हो  आप  तो  अपने  लड़के  से  चुदवा  लोगी  मेरा  क्या  होगा ?तब  चाची    ने   कहा  की  आज  रात  को  मैं  तुमको  अपनी  चुदाई  का  सीन  दिखाउंगी  देखना  कैसे  चोदता  है  मेरा  लड़का  ओके  तो  आज  रात  ठीक  11pm पे  और  तभी  मैं  नहा   कर  सिर्फ  टॉवल   में  बहार  आ  गया  और  चाची   मुझे  बहुत  गौर  से  देखने  लगी  और  मैं  अपने   रूम  में  आ  गया  तब  चाची   बोलि  की  तेरा  राजू  भी  तो  पूरा  जवान  है  साली  इतना  अच्छा  माल  घर  में  है  और  मोमबत्ती  से  काम  चलाती  है  तब
 मम्मी  उन्हें  धत्त  कर  दी  और  वो  हस्ते  हुए  चली  गयी  और  जाते  जाते  11pm की  याद  दिल  गयी  और  रात  का   इंतज़ार  तो  मुझे  भी  था  और  रात  को  खान  खाने  के  बाद  मैं  अपने  रूम  में  चला  गया  और  वहीँ  से  चुप  newhindisexstory.com  कर  पड़ोस  का  नज़ारा  देखने  लगा  चाची   के  घर  के  सामने  वाली  खिड़की  हमारे  घर  के  सामने  ही  खुलती  ( दोस्तों ये कहानी आप निऊहिंदीसेक्सस्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। थी  जिसे  मम्मी  की  सुविधा  के  लिए  चाची   ने  खोल   दिया  था  और  आज  लाइट  भी  ऑफ  नहीं  की  थी  तब  ही  मैंने  देखा   की  चाची   सिर्फ  पेटीकोट    और  ब्लाउज  में  ही  रूम  में  आई  और

 मम्मी  की  तरफ   आँख   मार  कर    ऊँगली  से   राउण्ड   बना  कर  उसमे  ऊँगली  करने  लगी  और  तब  ही  उनका  लड़का  वीरू  सिर्फ  कच्छे   में  आया  और  चाची   की  चूचियां  हाथ   में   लेकर  मसलने  लगा और  फिर  मुह   में  भरकर  चूसने  लगा  चाची   बोली  साले  मादरचोद  पी  जा  सार  दूध  जैसे  की  बचपन  में  पीता  है  आज  जमकर  चूत    मार  मेरी  चाची   के  मुह  से  गाली   सुनकर    मेरे   साथ  साथ  माँ  की  तबियत  भी  हिरन  हो  गयी  हमने  सोचा  भी  नहीं  था  की  चाची   इतनी  अय्यास   होगी  और  तभी  वीरू
 ने  उनके   सारे   कपडे  उतार  कर  उनको  एक   चेयर   पर  बैठा  दिया  और  उनकी  टांगे   फैला  दी  जिसे  की  उनकी  चूत    साफ   नज़र  आ   रही  थी  और  बोला   की   यहाँ  जंगल   क्यों  उगा   रखा  है  झांटे  क्यों  नहीं  बनाति   तुझे  मालूम  है newhindisexstory.com की  मुझे  झांटे  पसंद  नहीं  फिर  भी  चाची   बोली  की   कल  बना  लूँगि   आज  तो  तू  मेर्री  प्यास  बुझा  और  तब  वीरू  ने  उनकी  टाँगे  उठा   कर  एक  दमदा  धक्का   मार  और  चाची   बहुत  जोर  से  चिल्ला   पड़ी  ऊऊउइ  इ   ईईईईइस्स्स्स   साले  हरामी  आज    मारने    का   इरादा  है  क्या   कुत्ते  निकाल  ले  अपना  लौडा    मुझे  बहुत  दर्द  हो  रहा  है  आज  और  तब  वीरू  ने  उसकी  चूचियां  मुह  में  भरकर  चूसने  लगा  तब  चची  को  कुछ   राहत    हुई    और  थोड़ी  देर  बाद  दोनों  झड  गए   और  सुस्त  होकर  वहीँ  पर  नंगे  ही  सो  गए   और  ये  सीन  देख  कर  मेरा  और  मम्मी  का    दिमाग  भी  खराब  हो  चूका  था. कैसी लगी मेरी चाची  की चुदाई कहानी ,अगर तुम मेरी सेक्स की कहानी पसंद करता है तो कृपया साझा करें,अगर तुम मेरी चाची  की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे add now Facebook.com/ShipraSharma

1 comments:

loading...
loading...

सेक्स कहानियाँ,Chudai kahani,sex kahaniya,maa ki chudai,behan ki chudai,bhabhi ki chudai,didi ki chudai

Delicious Digg Facebook Favorites More Stumbleupon Twitter