Home » , , , » हिम्मत कर के सास की चूत में लंड डाल दिया

हिम्मत कर के सास की चूत में लंड डाल दिया

सास की चुदाई Hindi sex kahani, सेक्स कहानी Saas ki chudai, सास की प्यास बुझाई xxx chudai kahani, सास को चोदा Sex story, सास के साथ चुदाई की कहानी, सास के साथ सेक्स की कहानी, Saas ko choda xxx hindi story, सास की चूत में दामाद का लंड, Damad aur saas ki chudai xxx desi kahani, अपनी सास की चूत में लंड डाला Mastram ki hindi sex stories, अपनी सास ने मुझसे चुद गयी, Apni Saas ki chudai xxx desi kahani, सास ने मेरा लंड चूसा, सास को नंगा करके चोदा, सास की चूचियों को चूसा, सास की चूत चाटी, सास को घोड़ी बना के चोदा, 8" का लंड से सास की चूत फाड़ी, सास की गांड मारी, खड़े खड़े सास को चोदा, सास की चूत को ठोका,

मेरी सास की उम्र लगभग अभी 45 के करीब होगी.. लेकिन वो इतनी सुंदर नहीं है और उसके बूब्स भी इतने बड़े नहीं है.. लेकिन ठीक ठाक है। मेरे ससुर को गुज़रे हुए करीब अभी 10 साल हो गए है। दोस्तों यह कहानी तब की है जब मेरी शादी को 6 महीने हुए थे और मेरे पापा कुछ दिनों के लिए घर से बाहर गये हुए थे और मेरा होजरी का एक बहुत बड़ा कारोबार है। मेरी फेक्ट्री मेरे घर से 1 घंटे की दूरी पर है और फिर पापा काम से बाहर गये हुए थे। तो मेरी बीवी ने अपनी माँ मतलब मेरी सास को घर पर बुलाया हुआ था।
फिर में शाम को अपनी होजरी का काम खत्म करके घर पर पहुँचा। तो मैंने देखा कि मेरी सास मेरे घर पर आई हुई है.. लेकिन मैंने अभी तक अपनी सास के बारे में कभी भी कुछ ग़लत नहीं सोचा था। फिर रात हुई और हम लोगों ने एक साथ बैठकर खाना खाया और फिर थोड़ी बहुत इधर उधर की बातें की और फिर हम लोग सोने की तैयारी करने लगे और हम सभी लोग एक ही बेड पर सोए।
मेरी बीवी बीच में सोई सुबह हुई और फिर में रोज की तरह नाश्ता करके अपने होजरी के काम में चला गया और जब शाम हुई तो मेरी वाईफ का फोन आया कि में पड़ोसी के घर पर जन्मदिन की पार्टी में जा रही हूँ। आप घर पर थोड़ा जल्दी आ जाओ मम्मी घर पर अकेली है और फिर में कुछ 1/2 घंटे के बाद घर पर आ गया और फ्रेश होने को चला गया और में वापस बाथरूम से बाहर आया और मैंने अपने कपड़े चेंज किए।तो मेरी सास मेरे रूम में नहीं थी और जब मैंने कपड़े बदलने के लिए अपनी पेंट उतारी तो अचानक मेरी सास मेरे रूम में आ गई और उस वक़्त में सिर्फ अंडरवियर और बनियान में था। तो मेरी सास मेरी अंडरवियर की तरफ घूर घूरकर देखने लगी और मुझे बहुत अजीब सा महसूस हुआ। आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। तो मैंने झट से अपने कपड़े पहन लिए.. लेकिन मेरी सास अब भी मेरी तरफ ही देख रही थी। तभी मेरी सास मेरे रूम में ठीक मेरे सामने बेड पर बैठ गई और मुझसे बोली कि बेटा चाय पियोगे क्या? फिर मैंने कहा कि हाँ जी.. तो वो मेरे लिए चाय बनाने चली गई और मेरे मन में वो बात सोचकर कुछ अजीब सा हो रहा था कि मेरी सास मेरी अंडरवियर की तरफ कैसे देख रही थी? तो कुछ देर बाद मेरी सास मेरे लिए चाय बनाकर ले आई.. लेकिन मेरे मन में पता नहीं उस वक्त क्या आया और मैंने अपना लंड पेंट के ऊपर से ही खुजाना शुरू किया। तभी मेरी सास मेरी पेंट की तरफ फिर से घूर घूरकर देखने लगी।

फिर मुझे कुछ अजीब सा लग रहा था और में जानबूझ कर अपने लंड को पेंट के ऊपर से मसलता रहा और मेरी सास लगातार देखती रही। तभी कुछ देर बाद मेरी बीवी घर पर आ गयी और हम लोगो ने साथ बैठकर खाना खाया और सोने लगे और में जब सुबह उठकर बाथरूम में नहाने चला गया और में नहाकर अंडरवियर और बनियान में ही बाहर आ गया और सीधा अपने रूम में चला गया.. लेकिन फिर से मेरी सास वहीं पर मेरे रूम में पहले से ही मौजूद थी और मेरी बीवी सोई हुई थी। तो में जानबूझ कर अपने लंड को अंडरवियर के ऊपर से मसलने लगा। तभी मेरी सास मेरे अंडरवियर की तरफ देखने लगी और कुछ देर मसलने के बाद मेरा लंड धीरे धीरे अंडरवियर में खड़ा होने लगा। आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। तभी मैंने अपनी पेंट झट से पहनी और होजरी चला गया। फिर शाम को घर आया तो मैंने अपनी सास को देखा तो मुझे बहुत अजीब सा महसूस हो रहा था। फिर रात हुई और हम लोग खा पीकर सोने की तैयारी करने लगे। फिर मेरी बीवी सो चुकी थी.. लेकिन मुझे नींद नहीं आ रही थी और मेरे मन में मेरी सास का ख्याल चल रहा था और मेरा लंड मेरी अंडरवियर में तनकर खड़ा हुआ था।तभी मेरे मन में एक ख्याल आया और में बाथरूम के बहाने उठा और बाहर गया और कुछ देर के बाद में वापस आया तो मेरे मन में पता नहीं क्या आया और में धीरे धीरे सास और अपनी बीवी के बीच में जा कर लेट गया। मेरी सास को मालूम नहीं था कि में आया हूँ। तभी थोड़ी देर के बाद मैंने सोचा कि कुछ ट्राई करता हूँ और जैसे ही मैंने अपनी सास की तरफ साईड बदली तो मेरी सास की आँख खुल गई और वो चोंक गयी.. लेकिन चुप रही और मुझे बोली कि तुम यहाँ पर क्या कर रहे हो? में बहुत डर गया और लेटा रहा और में कुछ नहीं बोला और सोने का नाटक करने लगा और सुबह होने से पहले में वापस अपनी जगह पर आ गया। फिर में सुबह उठा और मेरी सास ने मुझसे पूछा कि तुम बीच में क्या कर रहे थे? तो मैंने कहा कि क्या बीच में? आप क्या बोल रही हो? और इतना कह कर में चला गया। शाम हुई और में घर पर वापस आया और मैंने पहले अपनी सास की तरफ देखा वो घर पर ही थी.. तभी मेरी बीवी वॉशरूम चली गयी और में अपने कपड़े वहीं पर चेंज करने लगा में अंडरवियर और बनियान में था तो में जानबूझ कर अपने लंड को खुजाने लगा और बहुत देर तक खुजाता रहा मेरी सास हल्का हल्का मेरी तरफ देख रही थी इतने में मेरा लंड अकड़ना शुरू हो गया.. लेकिन इस बार मैंने अपना हाथ नहीं रोका तो मेरी सास बोली कि यह क्या कर रहे हो? तो मैंने बोला कि क्या कर रहा हूँ खुजली कर रहा हूँ।

फिर में इतना कहकर डर गया और पेंट पहनकर बाहर हॉल में बैठ गया। तभी मेरी सास बाहर आई और बोली कि क्या हुआ? लेकिन मैंने कुछ ना बोला और अपने रूम में चला गया और मेरी बीवी बाहर आ गई और वो बोली कि खाना खाएँ मैंने हाँ किया और मेरी बीवी और सास खाना बना कर वापस आई। फिर मेरी सास मेरी तरफ देखकर स्माईल पास कर रही थी मुझे समझ ना आया फिर थोड़ी देर बाद हमने खाना खाया और बीवी बर्तन रखने चली गई। तभी मैंने जानबूझ कर लंड को खुजाना शुरू किया और मेरी सास ने मेरी तरफ देखा और बाहर चली गई। मेरे मन में सोते हुए मेरी सास के कई ख्याल आ रहे थे। तभी मैंने देखा कि मेरी बीवी और मेरी सास दोंनो सो चुके है मैंने अपना लंड नाईट पेंट से बाहर निकाला और लंड को छेड़ने लगा में अपनी सास को सोचकर लंड को हाथ में लेकर हिला रहा था तो मैंने देखा कि मेरी सास मेरे लंड की तरफ देख रही थी।फिर में डर गया और मैंने लंड को नीचे कपड़ो में कर दिया तो मैंने देखा कि मेरी सास अब भी मेरी तरफ ही देख रही थी थोड़ी देर हुई और मेरी आँख लग गई और रात के करीब 4 बजे मेरी नींद खुली तो मेरी सास सोई हुई थी। तभी में हिम्मत करके फिर से बीच में आकर लेट गया.. आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। तो मैंने देखा कि मेरी सास सो रही है मैंने धीरे से अपनी सास के पैरों को अपने पैरों से टच किया तभी मेरी सास सीधी हो कर लेट गई मैंने फिर से देखा कि मेरी सास सोए हुई थी मेरा लंड पेंट के अंदर लोहे की तरह टाईट था। मैंने अपना लंड सास के हाथ से टच किया मुझे बहुत अच्छा लगा। तभी मैंने देखा कि मेरी सास अभी भी सोई हुई थी। मैंने और हिम्मत करते हुए अपना लंड बाहर निकाला और सास के हाथ पर फेरने लगा मुझे बहुत मज़ा आ रहा था.. मैंने अपना लंड सास के हाथ में रख दिया और मेरी सास का हाथ हिला। तभी में डर गया और में वैसे ही रहा और देखा सास सो रही हैं और में धीरे धीरे अपना लंड उसके हाथ में रगड़ने लगा। तभी मुझे महसूस हुआ कि मेरी सास का हाथ टाईट हो रहा है तभी मेरी सास ने अपने हाथ की मुठ्ठी को बंद किया में डर गया.. लेकिन मेरी सास कुछ नहीं बोली और में धीरे से अपना लंड बाहर निकालने लगा। तभी मेरी सास ने लंड की पकड़ टाईट कर दी। मैंने देखा तो मेरी सास मेरे लंड को अपने हाथों से पकड़े हुई थी ।कैसी लगी सास की सेक्स स्टोरी , रिप्लाइ जररूर करना , अगर कोई मेरी सास की चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/LakshmiKumari

1 comments:

सेक्स कहानियाँ,Chudai kahani,sex kahaniya,maa ki chudai,behan ki chudai,bhabhi ki chudai,didi ki chudai

Delicious Digg Facebook Favorites More Stumbleupon Twitter