निहारिका आंटी और कोमल आंटी की चुदाई

निहारिका आंटी एकदम खूबसूरत हे रंग गोरा ओर भरा हुआ शरीर उनके बूब 42 कमर 38 ओर गांद 40 की हे ये मैं अपने अंदाज़े से बता रहा हू ओर उनका पूरा बदन एकदम चिकना हे हाथ रखो तो फिसल जाए वो दिखने मैं थोड़ी मोटी हे पर हे कमाल की ओर रही बात आंटी की तो उनके बारे मैं तो आप ने मेरी पिछली कहानियो मैं पढ़ा ही होगा.तो चलो अब चुदाई का कार्यक्रम शुरू करते हे ये घटना 2 महीने पहले की हे उस दिन बारिश भी हो रही थी ओर मेरा लंड भी कुछ ज़यादा ही गरम हो रहा था तो मैं आंटी के घर पहुच गया ओर उनको आवाज़ लगाई टीबी वो चाट पर कपड़े लेने गई थी तो उन्होने चाट से ही मुझे उपर आने को कहा मैं भी उपर चला गया ओर कपड़े उतरने मैं उनकी हेल्प करने लगा बारिश इतनी तेज थी की हम दोनो पूरी तरह से भीग गये थे जब सारे कपड़े उतार लिए

टीबी हम चाट पर बने एक छोटे से रूम मैं चले गये जहा से सीडिया नीचे जाती थी आंटी ने सारे भीगे हुए कपड़े वाहा रखी बकेट मैं डाल दिए. उनका भीगा बदन मुझ मैं जोश भर रहा था ओर वो मुझे ही देख रही थी मेने भी वक़्त ज़ाया ना करते हुए उनकी कमर को पकड़ा ओर बहो मे भर के किस करने लगा दोस्तो क्या पल था वो ओर भीगे होतो पर किस करना तो सच मे बहोट ही मज़ेदार होता हेअब मैं धीरे धीरे उनके कपड़े उतरने लगा ओर वो मेरे कपड़े खोलने लगी कुछ देर मे वो पेंटी मे ओर मैं अंडरवेर मे था फिर मैं उनके बदन पर किस करने लगा धीरे धीरे किस करते हुए मैं उनकी चूत तक आ गया ओर पेंटी के उपर से ही उनकी चूत को चाटने लगा बारिश के ठंडे पानी से भीगी चूत पे जब मेने अपनी ज़बान घुमाई तो ऐसा लगा जेसे किसी गरम चीज़ को छू रहा हू बिल्कुल अँगारे की तरह गरम थी कुछ देर बाद मेने पेंटी उतार दी ओर अपनी एक उंगली चूत मे डाल कर अंदर बाहर करने लगा ओर उनकी चूत के दाने को चाटने लगा आंटी आअहह उउउहह ज़ोर से कर आअहह म्मूऊ मज़ा आ रहा हे ओर तेज़ी से कर आअहह ओर आंटी झाड़ गई अब मैं खड़ा हो गया ओर वो घुटनो पर बैठ गई फिर मेरे लंड को बाहर निकल कर मूह मे भर लिया ओर लोल्ल्यपोप की तरह चूसने लगी आआहह मुझे भी मज़ा आ रहा था आआहह अब मुझ से ओर बर्दाश्त नही हो रहा था मेने आंटी को खड़ा किया ओर आगे की तरफ झुका कर लंड उनकी चूत मे डाल दिया ओर झटके लगाने लगा आंटी आहे भरने लगी आआहह ओो आअहह ओर आंटी फिर झाड़ गई मेरा भी होने वाला था तो मेने स्पीड ओर बड़ा दी उनके पानी से उनकी चूत पूरी गीली ओर चिकनी हो गई थी जिस से फूच फूच की आवाज़ आ रही थी.आप ये कहानी निऊ हिंदी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है।
करीब 20 मिनूट बाद मे भी आंटी की चूत मे ही झड़ गया. जब हम चुदाई कर रहे थे तो ह्यूम आस पास का कोई ख़याल नही था पर जब हम फ्री होकर खड़े हुए ओर सीडियो मे देखा तो दोनो ही हक्के बक्के रह गये हालत ऐसी की कतो तो खून नही क्यू की सीडियो मे कोमल आंटी की देवरानी निहारिका (बडला हुआ नाम) आंटी खड़ी थी ओर वो वाहा कब से खड़ी थी इस बात का भी ह्यूम कोई अंदाज़ा नही था जब हुमारे होश ठिकाने आए तो जल्दी जल्दी मे हम लोगो ने कपड़े पहने फिर मैं चुप छाप वाहा से निकल गया पर कोमल आंटी अब भी वही खड़ी थी उसके बाद उन दोनो के बीच क्या हुआ इसका मुझे कुछ भी पता नही था क्यू की मैं तो वाहा से अपने घर आ गया था उसके बाद शाम को कोमल आंटी का फोने आया ओर उन्होने मुझे बताया की कोई पराब्लम जेसी बात नही हे ओर उन्होने निहारिका को अच्छी तरह से समझा दिया हे तब जाकर मेरे दिमाग़ से बोझ तोड़ा कम हुआ पर आंटी ने ये भी बोला की कल रात मे उनके घर ही सौंगा इस बारे मे वो मा से बात कर लेंगी.

मेरी मा और आंटी की अच्छी जमती थी तो मा भी मान गई ओर मुझे आंटी के घर सोने की पर्मिशन दे दी. अब मैं कल रात का वेट करने लगा मुझे लग रहा था की कल की रात आंटी ने फुल नाइट चुदाई के लिए बुलाया होगा पर उनके दिमाग़ मे तो कुछ ओर ही प्लान था खैर मैं भी अगले दिन रात 8 बजे उनके घर पहुच गया टीबी आंटी नाईटी पहन कर बैठी टीवी देख रही थी मैं भी उनके पास जाकर बैठ गया ओर टीवी देखने लगा कुछ देर बाद निहारिका आंटी भी वाहा आ गई उन्होने भी रेड कलर की नाईटी पहनी हुई थी आते ही उन्होने मुझे देखा ओर एक सेक्सी स्माइल देकर मेरे पास आकर बैठ गई कोमल आंटी ने टीवी बंद कर दिया तब मेरा दिमाग़ तनाका ओर सारा माजरा मेरी समझ मे आ गया की आज निहारिका आंटी की चुदाई करनी हे.आप ये कहानी निऊ हिंदी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। निहारिका आंटी के पति भी दुबई मे जॉब करते हे ओर उनका एक बेटा ओर एक बेटी हे जो नाना के घर गये हुए थे. पिछले 2 साल से उनके पति नही आए थे तो वो सेक्स के लिए तड़प रही थी पर बदनामी के दर से उन्होंने कुछ किसी ओर के साथ ऐसा करने की हिम्मत भी नही की पर जब मुझे कोमल आंटी की चुदाई करते देखा तो उनकी आग भी भड़क गई ओर कोमल आंटी से मेरे लिए बात की इसीलिए मुझे आज रात उनके घर सोने बुलाया था अब कोमल आंटी हम दोनो को वाहा अकेला छोड़ कर सोने चली गई ओर इधर मैं निहारिका आंटी पर टूट पढ़ा उनको वही सोफे पर लिटा दिया ओर उन पर चाड गया.
मेने अपने होत उनके होतो पर रख दिए ओर किस करने लगा निहारिका भी मेरा साथ देने लगी हम दोनो एक दूसरे को डीप किस कर रहे थे कुछ ही देर मे हुमारी साँसे गरम हो गई करीबन 20 मिनूट तक मेने आंटी को लगातार किस किया उसी बीच मेने अपने हाथ उनकी नाईटी मे डाल दिया ओर बूब दबाने लगा आंटी मादक आवाज़े निकल रही थी मुऊऊऊँ उनकी आवाज़ नही निकल रही थी ज़यादा फिर मेने उनको खड़ा किया ओर नाईटी निकल दी उन्होने अंदर नही पहना था ओर अब नंगी ही मेरे सामने थी उनका बदन लाइट मे चमक रहा था फिर मेने अपने कपड़े भी निकल दिए.

अब हम 69 पोज़िशन मे आ गये वेसए एक बात बता दूँ दोस्तो मुझे ये पोज़िशन खूब पसंद हे अब आंटी नीचे से मेरा लंड गपा गॅप अपने मूह मे ले रही थी ओर मे उनके उपर उनकी चूत को चाट रहा था आंटी की सिसकारिया निकल रही थी जो पूरे कमरे मे गूँज रही थी आआअहह ससस्स ऊओह आआअहह भोथ दीनो से प्यासी हे आआहह आज इसकी प्यास बुझा दे हरीश क्या मस्त चूस्ता हे आआहह खा जा चूत को शांत कर दे इसे अब मैं भी ताव मे आ गया.आप ये कहानी निऊ हिंदी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। आंटी के मूह मे ज़ोर ज़ोर से झटके मरने लगा जिस से लंड आंटी के गले तक जा रहा था ओर उनकी गुगु की आवाज़ आ रही थी ओर चूत मे भी उंगली कर रहा था कुछ देर बाद आंटी ओर मैं दोनो साथ मे झाड़ गये ओर हुँने एक दूसरे का सारा पानी पी लिया तोड़ा नमकीन स्वाद था उसका तभी मेरी नज़र पास के कमरे के दरवाज़े पर पढ़ी जहा कोमल आंटी खड़ी थी वो बिल्कुल नंगी थी ओर खड़े खड़े अपनी चूत मे उंगली कर रही थी ओर बूब दबा रही थी.कैसी लगी आंटी की चुदाई कहानियों , अच्छा लगी तो जरूर रेट करें और शेयर भी करे ,अगर तुम मेरी आंटी की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/NikitaSharma

1 comments:

Bookmark Us

Delicious Digg Facebook Favorites More Stumbleupon Twitter