Hindi Sex Story & हिंदी सेक्स कहानियाँ

Hindi me sex kahani, chudai ki kahani, new sex story hindi, चुदाई की कहानी, desi xxx hindi sex stories, हिंदी सेक्स कहानियाँ, adult sex story hindi, hindi animal sex stories, brothe sister sex xxx story, mom son xxx sex story, devar bhabhi ki xxx chudai ki story with hot pics, xxx kahani, real sex kahani hindi me, desi xxx chudai story, baap beti ki real xxx kahani with desi xxx chudai photo

प्लान कर के अपनी बीवी को समूह चुदाई करवाई

समूह चुदाई की कहानियों, Dost se apni biwi ko chudai karwayi, बीवी की अदला बदली Group sex kahani, दो दोस्त से अपनी बीवी को चुदवाया, Biwi ki adla badli xxx indian swinging sex kahani, मेरी बीवी की सामूहिक चुदाई की दर्दनाक सेक्स कहानी, Desi xxx gang bang chudai, चूत में एक साथ दो लंड, Mastram ki group sex stories,

मेरा नाम हनी है और मेरी उम्र 28 साल की है और मेरी वाईफ का नाम ज्योति है। उसकी उम्र 25 साल की है और बहुत ही सेक्सी है.. मोटी गांड मोटे बूब्स एकदम गोरी चिट्टी.. उसका फिगर 36-30-38 है। दोस्तों हमारी लव मेरिज हुई है लेकिन मैंने उसे शादी के पहले भी कई बार चोदा है और मेरी हमेशा से ही एक इच्छा रही थी कि जब मेरी शादी हो तो कोई मेरी वाईफ को नंगी करके मेरे सामने ही उसकी चूत फाड़ दे.. उसे कुतिया की तरह चोदे और चोद चोदकर उसकी चूत को भोसड़ा बना दे.. भेन की लोड़ी रांड वो बहुत मादरचोद है।अब सीधा कहानी पर आते हैं.. जैसा कि मैंने आपको बताया कि में अपनी वाईफ की बहुत चुदाई कर चुका हूँ हर तरीके से लेकिन अब मुझे अपने मन की इच्छा पूरी करनी थी तो एक दिन मैंने प्लान बनाया कि में अपने कुछ फ्रेंड्स को घर में बुलाकर अपनी वाईफ की चुदाई करवा दूँ।
वैसे में जानता था कि मेरी वाईफ भी मेरा पूरा साथ देगी अपनी चुदाई करवाने में लेकिन उसको बिना बताए सब कुछ करना चाहता था। तो शुरू में मैंने उसे बहुत सारी ब्लू फिल्म दिखाई जिनमे पति के सामने ही उनकी वाईफ दो तीन लंड लेकर चुदवाती है और बहुत सारी मैंने वाईफ की दोस्तों के साथ चुदाई की कहानियाँ उसे पड़ाई तो जब भी में उसके साथ सेक्स करता तो वो और भी चुदने में कामुक रहती थी। फिर एक बार रात को में उसकी चुदाई कर रहा था तो मैंने ब्लू फिल्म लगा रखी थी जिसमे पति अपना लंड पकड़ कर मूठ मार रह था और सामने उसकी वाईफ को उसके तीन दोस्त चोद रहे थे।तभी मेरी वाईफ ने मुझसे पूछा कि डार्लिंग ये जो आप मुझे कहानियाँ पढ़ाते हो वाईफ की चुदाई और ये कुछ फिल्म जो है जिसमे पति के सामने ही उसकी बीवी चुद रही है क्या ये सब असली में होता है? आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर मैंने जवाब दिया कि हाँ डार्लिंग ये तो सब नॉर्मल होता ही है हर कपल अपनी वाईफ शेयर करते है इन सब के लिए तो अब क्लब भी बन चुके है जहाँ पर ये सब होता है। फिर मैंने उससे पूछा डार्लिंग क्या बात है तुम्हे भी ज़रूरत है क्या किसी और लंड से चुदने की? उसने कोई जवाब नहीं दिया सिर्फ़ एक स्माईल देकर चुप हो गयी और सीधा नीचे मुहं करके मेरा लंड चूसने लग गयी और बहुत तेज़ी से करीब दो मिनट के बाद ही मेरा सारा वीर्य उसके मुहं में झड़ गया और वो सारा माल पी गयी।फिर मैंने उससे बोला कि डार्लिंग अगर एक बार तुम्हारी चुदाई भी ऐसे ही तीन मोटे मोटे लंड से हो जाये तो मज़ा आ जाएगा और सोचो एक मोटा सा लंड तुम्हारे मुहं में और दूसरा लंड तुम्हारी चूत में और तीसरा लंड तुम्हारी गांड में हो और तीनो मिलकर तुम्हे बुरी तरह से चोदे तो कितना मज़ा आएगा और में वहाँ पर खड़ा होकर तुम्हारे नाम की मूठ मारू। तभी उसी टाईम मेरी नंगी वाईफ मुझसे बोली कि ओह डार्लिंग आओ मुझे चोदो जोर से वो इतनी गरम हो चुकी थी की उसकी चूत पानी छोड़ रही थी मैंने सीधा एक ही झटके में अपना 8 इंच लंबा लंड उसकी चूत में उतार दिया और उसे चोदने लगा और मैंने चोद चोद कर उसकी चूत की खुजली मिटा दी।

उस दिन मैंने पूरी रात उसकी चुदाई की फिर करीब एक सप्ताह के बाद रविवार का दिन था और में सोकर उठा ही था तभी मैंने देखा कि ज्योति मेरे लिए चाय लेकर बेडरूम में आई तो उसने उस दिन लाल कलर की मेक्सी पहन रखी थी जो साईंज में बहुत छोटी थी और वो उसकी मोटी गांड भी अच्छे से नहीं ढक रही थी और उसका गला इतना खुला था कि उसके अंदर जकड़े हुए बूब्स बाहर आने के लिए तड़प रहे थे वो जैसे ही मुझे चाय देने के लिए झुकी तो मैंने उसकी मोटी गांड पर हाथ रखकर उसे अपनी तरफ खींच लिया और उसकी गांड मसलने लगा और दूसरे हाथ से बूब्स दबाने लगा फिर वो भी गरम हो गयी और मैंने अपना लंड निकाल कर उसके हाथों में दे दिया और फिर वो उसे चूसने लग गई।तभी थोड़ी देर बाद ही हमारी डोर बेल बजी तो मैंने उसे बोला कि जाकर देखो तो कौन आया है? वो वैसे ही आधी नंगी हालत में चल पड़ी जब मैंने उसे देखा तो उसकी गांड पूरी नजर आ रही थी। फिर में बेड से उठा और जाकर देखा तो मेरा एक फ्रेंड दरवाजे पर खड़ा था और वो मेरी वाईफ को ऊपर से नीचे तक घूर घूर कर देखने लगा उसकी नज़र उसके गोरे मोटे मोटे बूब्स पर अटक गयी और मेरी वाईफ भी उसे जानती थी इसलिए उसने उसे अंदर आने के लिए बोला लेकिन वो तो किसी सपने में खोया था जब उसे होश आया तो वो मेरी वाईफ के पीछे पीछे अंदर आ गया। आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। तभी उसकी नज़र मेरी वाईफ की मोटी सी गांड पर ही थी फिर उसने अपना लंड पकड़ा और मसलने लगा में ये सारा नज़ारा देख रहा था मुझे बहुत ही मज़ा आ रहा था।फिर में अपने दोस्त के पास जाकर बैठा और हम बातें करने लगे थोड़ी देर बाद मेरी वाईफ चाय लेकर आई और उसके सामने झुककर उसे चाय दी तब मैंने देखा कि ज्योति के बूब्स पूरे नज़र आ रहे थे और वो उसे स्माईल दे रही थी। फिर ज्योति भी हमारे सामने सोफे पर बैठ गयी और तभी मैंने देखा कि ज्योति की काली पेंटी भी नज़र आ रही थी तब मैंने सोच लिया कि अब वो टाईम आ चुका है जिसका मुझे कई दिनों से इंतजार था। तभी थोड़ी देर बाद इधर उधर की बातें करके मेरा फ्रेंड चला गया। अब मैंने ज्योति के लिए तीन चार सेक्सी नाईटी खरीदी। फिर रात को जब में घर आया तो ज्योति को मैंने वो नाईटी दी जब वो गुलाबी कलर की नाईटी पहन कर बाहर आई तो मेरे होश ही उड़ गये वो इतनी सेक्सी लग रही थी वो पल में ही जानता हूँ उसका गोरा सा बदन जो पहले से ही आधा नंगा था उसका गला बहुत ही खुला था जिसमे उसके गोरे गोरे बूब्स बाहर ही नज़र आ रहे थे।

ज्योति का बदन उसमे बिल्कुल चिपक गया था उसकी गांड बिल्कुल उसमे साफ साफ दिखाई दे रही थी वो थोड़ा सा भी झुकती तो उसकी पेंट नज़र आ रही थी वो मेरे पास आई और बोली डार्लिंग ये नाईटी तो में सिर्फ़ तुम्हारे सामने ही पहन सकती हूँ.. तो आपको क्या ज़रूरत थी इतना पैसा खर्च करने की? मैंने बोला डार्लिंग में तुमसे बहुत प्यार करता हूँ और में चाहता हूँ की तुम जितनी सुंदर हो उतना तुम्हे दिखना भी चाहिए और क्या फायदा ऐसी जवानी का जो कपड़ो के पीछे छुपी रहे तुम ये किसी के भी सामने पहनो मुझे कोई ऐतराज नहीं है लेकिन किसी के सामने उतारना मत वरना वो तुम्हे वहीं पर पकड़ कर चोद देगा। फिर हम दोनों ही जोर जोर से हंसने लगे। आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर ज्योति बोली कि ओह डार्लिंग तुम कितने अच्छे हो फिर मैंने उसे बेड पर पटक कर उसकी चूत में लंड डाल दिया और उसे चोदने लगा फिर चुदाई खत्म होने के बाद हम दोनों सो गये।फिर अगले दिन में मार्केट में घूम रहा था तो मेरे कुछ पुराने फ्रेंड्स मुझे मिल गये वो तीनो फ्रेंड्स मुझे नॉर्मली जानते थे क्योंकि वो थोड़े गुंडे टाईप के आदमी थे। तो मेरा उनसे सिर्फ़ हाय हैल्लो ही था जब में उनसे मिला तो हम एक केफे में बैठकर बाते करने लगे। तभी उन्होंने ने बताया कि वो किसी की तलाश में आए थे जो उनके बेंक से लोन लेकर फरार है उन्हे सिर्फ़ दो दिन रुकना था दिल्ली में लेकिन अर्जेंट टाईम पर कोई होटेल उन्हे नहीं मिल पाया। फिर मैंने उन्हें बोला कि यार मेरे होते हुए तुम्हे कोई प्राब्लम नहीं होगी.. तुम मेरे घर में रूक जाना। वो बोले थेंक्स यार! फिर मैंने अपनी वाईफ को फोन करके सारी बात बताई और बोला कि रात के टाईम तुम खाना बनाकर रखना क्योंकि वो सभी फ्रेंड मजे मस्ती करने आ रहे है आज हम सभी नाईट पार्टी करेंगे फिर मैंने बोला कि ज्योति तुम ऐसा करना जब हम घर पहुंचे तो तुम अपनी वो काली वाली नाईटी ज़रूर पहनना ठीक है।

वो बोली डार्लिंग तुम्हारा दिमाग़ तो ठीक है में तुम्हारे फ्रेंड्स के सामने ऐसे कैसे आ सकती हूँ? तभी मैंने बोला कि डार्लिंग मेरे फ्रेंड्स पहली बार घर पर आएँगे तो उन्हे भी तो पता होना चाहिए की मेरी वाईफ कितनी सेक्सी है वैसे भी में हूँ ना तुम्हारी चूत थोड़ी ना मारी जाएगी.. वो दोबारा हंसने लगी और बोली कि तुम बहुत बदमाश हो। दोस्तों में जानता था कि एक बार अगर मेरे इन दोस्तों ने ज्योति को उस हालत में देख लिया तो मेरे रोकने पर भी वो नहीं मानेंगे बल्कि मेरी वाईफ का बलात्कार ही कर डालेंगे। रात को हम सारे फ्रेंड्स ने मिलकर तीन चार बोटेल्स वाईन के लिए और कुछ स्नॅक्स लिए और चल दिए।आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर जब हम घर पहुँचे तो मैंने डोर बेल बजाई तो ज्योति ने दरवाजा खोला तो हम उसे देखते ही रह गये क्योंकि वो पूरी रंडी लग रही थी और उसने गहरी लिपस्टिक और माँग में सिंदूर और बहुत अच्छा मेकअप किया हुआ था जैसे लड़की सुहागरात में करती है फ़र्क सिर्फ़ इतना था कि उस टाईम लड़की साड़ी में होती है और मेरी वाईफ एक छोटी नाइटी में थी वो भी काले कलर की नाईटी में उसका गोरा बदन बिल्कुल चमक रहा था। में उसे देख कर ही समझ गया था कि आज इसे चुदना है और वो भी जानती थी इसलिए तो उसने इतना मेकअप किया था। फिर हम अंदर गये जब मैंने अपने दोस्तों की तरफ देखा तो उनकी नज़र मेरी वाईफ की गांड पर ही थी और मैंने देखा कि ज्योति भी कुछ ज्यादा ही अपनी गांड मटकाते हुए चल रही थी। कुछ भी हो आज वो कयामत ढा रही थी।अब हम सारे बैठ गये और ज्योति भी मेरे साथ सोफे पर बैठ गई और दो दोस्त लक्की और लाला सामने बैठ गया तीसरा मेरी वाईफ के पास वाली सीट पर फिर मैंने उनका परिचय करवाया और बातें शुरू हो गयीं मैंने ज्योति को बोला कि जाओ तुम कुछ गिलास लेकर आओ और खाने के लिए भी जब वो उठी तो थोड़ा झुककर उठी और उसके बूब्स बहुत बड़े बड़े दिख रहे थे और पीछे से उसकी मोटी गांड नज़र आने लगी मैंने देखा कि ज्योति ने पेंटी भी नहीं पहनी हुई थी पीछे से उसकी पूरी चूत नज़र आ रही थी। में ये सब देख कर चकित हो गया और ये नज़ारा मेरे तीसरे दोस्त ने भी देख लिया और सीधा ही अपना लंड पकड़ कर दबाने लगा। फिर जैसे ही वो गयी उसके पीछे पीछे में किचन में गया और ज्योति से पूछा कि तुमने पेंटी और ब्रा भी नहीं पहनी हुई है.. तो उसने बोला कि डार्लिंग मुझे लगा कि तुम्हे अच्छा लगेगा इसलिए.. वैसे भी वो लोग मेरी चुदाई थोड़ी ना करेंगे। तुम हो तो सही अगर तुम चाहते हो तो में पहन लेती हूँ।

फिर मैंने कहा कि कोई बात नहीं अब रहने दो जब में वापस आया तो वो कुछ बातें कर रहे थे। में पर्दे के पीछे खड़ा होकर उनकी बातें सुनने लगा और वो कह रहे थे कि यार इसकी वाईफ तो देख क्या जुगाड़ है यार.. कुछ तो करो आज की रात कैसे भी करके इस रांड़ को अपने लंड पर बैठाना है भेन की लोड़ी लगती है हमारे लिए ही तैयार होकर बैठी है। तीसरा दोस्त बोला कि सही बोल रहा है उसने पेंटी भी नहीं पहनी दूसरा बोला सच में हाँ यार.. लक्की बोला यार ऐसा है तो यहीं पर उसके पति को भी पार्टी में शामिल करते है पीने खाने के लिए और इसके पति को ज्यादा पिलाकर फुल कर देंगे सला देखता रहेगा अपनी बीवी की चुदाई और कुछ बोला तो वहीं साले की पिटाई कर देंगे। सब बोलते हैं ठीक है यार ये बड़िया प्लान है। आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर में उनके बीच में गया और बोला कि क्या बातें हो रही है तो लाला बोला कि यार बस कुछ नहीं तेरी तारीफ हो रही थी।
में : मेरी क्या तारीफ कर रहे हो ज़रा मुझे भी तो बताओ?
लक्की : बस यार तुमसे जलन हो रही थी कि तेरी वाईफ जितनी सेक्सी लड़की तेरे पास क्यों है? काश हमारी वाईफ भी वैसी होती। तभी ज्योति सारा समान लेकर आती है और झुक कर टेबल पर रखती है जिससे उसके बूब्स नज़र आने लगते है और थोड़ा आगे होकर गिलास रखती है तो पीछे से उसकी चूत नज़र आती है वो तीनों उसकी चूत देखने लगते है ज्योति भी ये नोटीस कर लेती है और जानबूझ कर मेरे सामने आती है और थोड़ी देर तक झुकी रहती है फिर सीधी खड़ी होकर बोलती है अरे भाई साहब आप कुछ लीजिए ना।
लक्की : भाभी आप चिंता मत करो आज हम सब कुछ लेकर ही जाएँगे।
ज्योति : भाई साहब हम आपको ऐसे जाने भी नहीं देंगे।
लाला सबके पेग बनाना चालू करता है वो पाँच ग्लास में दारू डालता है तो में बोलता हूँ कि ये ग्लास किसलिए तो वो बोलता है भाभी के लिए में बोलता हूँ कि वो नहीं पीती.. इतने में ज्योति बोल पड़ती है डार्लिंग आपके सभी दोस्त पहली बार घर आए हैं तो इनका दिल मत तोड़ो डार्लिंग.. में आज थोड़ा पी लूंगी। में मन में सोचा हूँ कि रंडी आज पूरे मूड में है और फिर शुरू होता है दारू का दौर।

लाला सबके पेग बनता है और मेरा पेग थोड़ा हेवी बनता है जो में देख लेता हूँ लेकिन में तो खुद चाहता था कि साले आज इसे कुतिया की तरह चोदे। फिर लाला और लक्की हमारे सामने बैठे होते है और तीसरा दोस्त मेरी वाईफ के साथ वाली सीट पर बैठता है अब सारे अपने पेग उठाते है और चियर्स के साथ पी लेते है अब सबने तीन तीन पेग लगा चुके होते है और सबको नशा चड़ रहा होता है में तीनो को देखता हूँ तो तीनो इशारो में कुछ बातें कर रहे होते है। फिर में बोलता हूँ कि ज्योति तुम्हारे देवर बड़ी तारीफ कर रहे थे तुम्हारे बारे में।
ज्योति नशे में बोली : क्या बोल रहे हो जानू मेरे बारे में?
में : तुम्हारे सेक्सी बदन के बारे में क्या कहूँ अब तुम खुद ही पूछ लो अपने देवरों से।
ज्योति : भाई साहब बताए ना क्या बोला अपने?
दुर्गेश : भाभी जी बस इतना ही कि आप जैसा माल मेरे पास होता तो में जी भरकर उसे रगड़ता।
लक्की : भाभी आप मेरी वाईफ होती तो पूरे दिन आपको घर में ही नंगी रखता और अपने दोस्तों के लंड पर बैठता ताकि आपकी चुदाई का पूरा मज़ा मिल सके।
लाला : भाभी आपकी जैसी वाईफ तो किस्मत वालों को ही मिलती है और आप इस लोडू को कहाँ मिल गयी। फिर सारे हंसने लगे। आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। अब सारे फुल नशे में होते गये। तभी दुर्गेश खड़ा होकर एक गिलास में वाईन डालकर मेरी वाईफ के पास आता है और सीधा उसके होंठो से लगाकर पिलाने लगता है फिर थोड़ी सी वाईन उसकी नाईटी पर से होती हुई उसके बूब्स तक जा पहुँचीं तो दुर्गेश सॉरी बोलकर मेरी वाईफ के बूब्स के ऊपर से ही वाईन चाटने लगता है हम सब मिलकर ये नज़ारा देखते है। तभी लक्की बोलता है कि यार गर्मी बड़ी लग रही है ज़रा कपड़े उतारने पड़ेंगे। फिर सब अपने अपने कपड़े उतारते है और सारे अंडरवियर में आ जाते है में और ज्योति दोनों ही खड़े खड़े देखते हैं कि उन तीनो के मोटे मोटे लंड ऊपर से ही नज़र आने लगते है।लाला : भाभी जी आप भी कपड़े उतार दीजिए ना देखिए कितनी गर्मी हो रही है फिर में बोलता हूँ कि हाँ डार्लिंग तुम अपनी नाईटी उतार ही दो वैसे भी गीली हो चुकी है। तभी मेरी वाईफ सीधा मुझसे बोलती हैं कि डार्लिंग तुम्ही उतार दो प्लीज़ में जैसे ही खड़ा होता हूँ तो लक्की मुझे वापस धक्का देकर वापस बैठाता है और खुद उतारना शुरू करता हैं जैसे ही मेरी वाईफ नंगी होती है तो सारे ही अपने लंड अंडरवियर के ऊपर से पकड़ लेते है और अपने लंड को मसलने लगते है। मेरी वाईफ अपनी नशीली आँखों से उनके मोटे लंडो को निहारती है। ये सब देखकर मेरा भी लंड खड़ा हो गया और में भी पूरा नंगा हो गया। अब सभी लोग अपने अंडरवियर उतारकर पूरे नंगे हो जाते हैं।

फिर में उन तीनो के लंड देखकर हैरान हो गया। उन तीनो के लंड 8 या 9 इंच से कम नहीं थे। सबसे मोटा लंड दुर्गेश का था। आगे से पूरा लाल टोपा और बहुत ही मोटा लंबा लंड। फिर लक्की ने मेरी वाईफ का हाथ पकड़कर सीधा अपनी और खींचा और मेरी वाईफ की मोटी गांड सीधी उसके लंड के ऊपर बैठ जाती है और लक्की मेरी वाईफ के लाल लाल होंठों को चूसने लगता है। मेरी वाईफ भी पूरा साथ देती है और वो उसके मोटे मोटे बूब्स को पकड़कर दबाता है। फिर दुर्गेश ने बोला है कि साले सारा मज़ा खुद ही लेगा या हमे भी मौका देगा। फिर मैंने बोला कि.. भाई मौका तो सबको मिलेगा। आज आप सबको मेरी बीवी की चूत फाड़नी है।तभी वो तीनो ही मेरी शक्ल देखते हैं और में मज़े से दारू के पेग बनाकर पीता रहता हूँ। आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर तीनो मिलकर मेरी वाईफ को उठाकर बेड पर पटक देते हैं और बोलते है ये ले रांड़ हमारे आंड चूस। मेरी वाईफ सबसे पहले दुर्गेश का लंड अपने हाथों से पकड़कर उसकी मूठ मारती है और फिर अपने होठों में दबाती हैं उम्मम.. फिर लोलीपॉप की तरह चूसने लगती है। लक्की मेरी वाईफ की चूत पर ही वाईन डालता हैं और चाटने लगता हैं। तभी मेरी वाईफ की सिसकियाँ निकल जाती है और वो दुर्गेश का लंड और जोर से चूसने लगती है। दुर्गेश उसका चूसना सहन नहीं कर पाता और सारा वीर्य उसके मुहं में ही झाड़ देता हैं और मेरी वाईफ का पूरा मुहं उसके वीर्य से भर जाता है और वो उसे पी जाती है।फिर लाला अपना लंड उसके मुहं में देकर चुसवाता हैं और दस मिनट बाद वो भी सारा वीर्य उसके मुहं में झाड़ देता हैं। इतनी देर में मेरी वाईफ भी दो बार झड़ चुकी होती है और लक्की उसकी चूत पूरी चाट चाट कर साफ कर देता हैं.. फिर लक्की सीधा होकर बेड पर लेट जाता हैं और मेरी वाईफ उसके ऊपर बैठकर उसके लंड पर धीरे धीरे बैठ जाती और अपनी चूत में उसका लंड उतार लेती हैं और इतने देर में उन दोनों का दोबारा लंड खड़ा हो जाता है और दुर्गेश पीछे से आकर अपना मोटा लंड उसकी गांड के छेद पर सेट करता हैं और एक ज़ोर का झटका मारकर अपना टोपा उसकी गांड में फंसा देता है। मेरी वाईफ इतनी ज़ोर से चिल्लाती है.. आहह मार गयी माँ जैसे कि साली अभी बेहोश हो जाएगी.. लेकिन मेरी बीवी की आँखों में तो सेक्स का नशा सवार हो चुका था।

फिर थोड़ी देर बाद ही वो बोलती हैं ओह आओ ना चोदो मुझे जोर से और जोर से पूरे जोश के साथ और वो दोनों ही ज़ोर ज़ोर से उसकी चूत और गांड में झटके मारते है और लाला उसके मुहं में लंड डालता है और वो मज़े से चूस रही होती है। में ये सब सोफे पर बैठकर देखकर अपना लंड पकड़ कर मुठ मार रहा था और फिर कुछ देर बाद वो तीनों ही एक साथ झड़ गये और उसकी चूत गांड और मुहं को अपने पानी से भर दिया। मेरी वाईफ भी संतुष्ट लग रही थी और ये नंगा नाच पूरी रात चलता रहा.. कभी कोई उसको घोड़ी बनाकर उसकी गांड मारता तो कोई उसके मुहं में झड़ता और में पूरी रात में चार बार मूठ मारकर सो गया।फिर जब सुबह उठा तो देखा कि डबल बेड पर मेरी वाईफ नंगी पड़ी हुई थी उन तीनो के साथ। फिर सब उठे और जाते जाते दोबारा मेरी वाईफ को चोदकर चले गये। आप ये कहानी आप निऊ हिंदी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। फिर रात के टाईम जब में घर वापस आया तो मैंने अपनी बीवी की बहुत चुदाई की.. लेकिन उसने मुझसे साफ बोल दिया कि क्या डार्लिंग तुम मुझसे नाराज़ तो नहीं हो? तभी मैंने कहा कि नहीं डार्लिंग बल्कि मुझे तो बहुत मज़ा आया। तुम्हारी चुदाई देखकर फिर मैंने उसे उसी टाईम पकड़कर पूरा नंगा किया और चोदने लगा और अपनी रात भर की प्यास दूसरी रात को उसे अच्छे से चोदकर बुझा ली। फिर में उसकी चूत में झड़ कर और थक कर उसके ऊपर ही सो गया और मुझे पता ही नहीं चला कि मुझे कब नींद आ गई।कैसी लगी मेरी बीवी बीवी की समूह चुदाई , रिप्लाइ जररूर करना , अगर कोई मेरी बीवी की चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/RekhaSharma

The Author

Kamukta xxx Hindi sex stories

astram ki hindi sex stories, hindi animal sex stories, hindi adult story, Antarvasna ki hindi sex story, Desi xxx kamukta hindi sex story, Desi xxx stories, hindi sex kahani, hindi xxx kahani, xxx story hindi, hindi sister brother sex story, hindi mom & son sex story, hindi daughter & father sex story, hindi group sex story, hindi animal sex story, sex with horse hindi story,
Hindi Sex Story & हिंदी सेक्स कहानियाँ © 2018 Frontier Theme