Hindi Sex Story & हिंदी सेक्स कहानियाँ

Hindi me sex kahani, chudai ki kahani, new sex story hindi, चुदाई की कहानी, desi xxx hindi sex stories, हिंदी सेक्स कहानियाँ, adult sex story hindi, hindi animal sex stories, brothe sister sex xxx story, mom son xxx sex story, devar bhabhi ki xxx chudai ki story with hot pics, xxx kahani, real sex kahani hindi me, desi xxx chudai story, baap beti ki real xxx kahani with desi xxx chudai photo

चाची ने अपने बेटे से चूत मरवाई

माँ बेटा की चुदाई कहानियाँ, Chachi ki sex kahani, चाची ने अपने बेटे से चुदवाया, Apne hi bete ke sath chachi ki chudai xxx gandi kahani, बेटे ने माँ को चोदा xxx hindi story, बेटे के साथ माँ की सेक्स कहानी, Chachi ko choda xxx hindi story, चाची ने मेरा लंड चूसा, चाची को नंगा करके चोदा, चाची की चूचियों को चूसा, चाची की चूत चाटी, चाची को घोड़ी बना के चोदा, 8 इंच का लंड से चाची की चूत फाड़ी, चाची की गांड मारी, खड़े खड़े चाची को चोदा, चाची की चूत को ठोका,

चाची  सिर्फ 36 साल  की  ही  थी  और  उनका    फिगर  बहुत  मेंटेन  था   उनको देखकर  किसी  भी  जवान  और  बुड्डे   के  जोश  आ  सकता  है  और  उनकी  चूची  भी  अभी  ज्यादा  बड़ी  नाहि   थी  हमारे  पड़ोस   में  एक   चाची   रहती  थी  जिनकी  ऐज   करीब  40 साल  की  रही  होगी  जब  पापा  नहीं  रहते  तो  वो  अक्सर  घर  आ  जाया  करती  थी  एक  दिन  जब  मैं  नह  रहा  था   तब  चाची  आ  गयी  और  मम्मी   से  बातें  करने  लगी  और  तब  वो  बोली  की  करीना  एक  बात  बताओ  जब  तुम्हारे  पति  चले  जाते  है  और  महीनों  के  बाद  आते  है  तब  तुम  क्या  करती  हो  तब  मम्मी  बोली  की  करना  क्या  है  बस  बर्दास्त  करती  हूँ  आग  लगी  रहती  है  और  उनकि  याद  बहुत  आती   है  तो  मोमबत्ती  से  काम  चला  लेती  हूँ
और  फिर  मां   ने  चाची   से  पुछा  जब  तुम्हारे  पति  बहार  जाते  है  तब  आप  क्या  करती   हो ?  और  मैं  नह  चूका  था  पर  फिर  भी  दोनों  की  बातें  सुनने  को  वहीँ  रुक  रहा  और  फिर  मैंने  चाची   की  आवाज़  सुनी  की  भाई  मैं  तो  अपना  मसला  हलकर   लेती  हूँ  तेरी  तरह  मोमबत्ती  से  काम  नहीं  चलाती  हूँ  तब  मम्मी  ने  पुछा  की  भला  कैसे ?तब  चाची   बोली  की  मैं  अपने  बेटे  वीरू  से  अपनी  प्यास  शांत  करती  हूँ  मम्मी  ने  पुछा  की  मतलब  क्या  तू  अपने  बेटे  से  चुदवाती  है ?तब  चाची   बोली  हाँ  मेरी  रानी  बहुत  मज़ा  आता  है  वीरू  से  चुदवाने  में  बहुत  मोटा  और  लम्बा  है  उसका  लंड  पूरी  तरह  से  जवान  कर  देता  है  मुझे  तो  वो  तब  मम्मी  ने  कहा  हटिये  मुझे  शर्म  आती  है  तब  चाची   ने  मम्मी  की  चूची  को  पकड़  लिया  और  मसलने  लगी  तब  मम्मी  आआअह  आआअह  करने  लगी  कहने  लगी  की  रहने  दो  चाची   काहे  आग  लगा  रही  हो  आप  तो  अपने  लड़के  से  चुदवा  लोगी  मेरा  क्या  होगा ?तब  चाची    ने   कहा  की  आज  रात  को  मैं  तुमको  अपनी  चुदाई  का  सीन  दिखाउंगी  देखना  कैसे  चोदता  है  मेरा  लड़का  ओके  तो  आज  रात  ठीक  11pm पे  और  तभी  मैं  नहा   कर  सिर्फ  टॉवल   में  बहार  आ  गया  और  चाची   मुझे  बहुत  गौर  से  देखने  लगी  और  मैं  अपने   रूम  में  आ  गया  तब  चाची   बोलि  की  तेरा  राजू  भी  तो  पूरा  जवान  है  साली  इतना  अच्छा  माल  घर  में  है  और  मोमबत्ती  से  काम  चलाती  है  तब  मम्मी  उन्हें  धत्त  कर  दी  ,आप ये कहानी निऊ हिंदी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर पड़ रहे है। और  वो  हस्ते  हुए  चली  गयी  और  जाते  जाते  11pm की  याद  दिल  गयी  और  रात  का   इंतज़ार  तो  मुझे  भी  था  और  रात  को  खान  खाने  के  बाद  मैं  अपने  रूम  में  चला  गया  और  वहीँ  से  चुप    कर  पड़ोस  का  नज़ारा  देखने  लगा  चाची   के  घर  के  सामने  वाली  खिड़की  हमारे  घर  के  सामने  ही  खुलती   थी  जिसे  मम्मी  की  सुविधा  के  लिए  चाची   ने  खोल   दिया  था  और  आज  लाइट  भी  ऑफ  नहीं  की  थी  तब  ही  मैंने  देखा   की  चाची   सिर्फ  पेटीकोट    और  ब्लाउज  में  ही  रूम  में  आई  और  मम्मी  की  तरफ   आँख   मार  कर    ऊँगली  से   राउण्ड   बना  कर  उसमे  ऊँगली  करने  लगी  और  तब  ही  उनका  लड़का  वीरू  सिर्फ  कच्छे   में  आया  और  चाची   की  चूचियां  हाथ   में   लेकर  मसलने  लगा और  फिर  मुह   में  भरकर  चूसने  लगा  चाची   बोली  साले  मादरचोद  पी  जा  सार  दूध  जैसे  की  बचपन  में  पीता  है  आज  जमकर  चूत    मार  मेरी  चाची   के  मुह  से  गाली   सुनकर    मेरे   साथ  साथ  माँ  की  तबियत  भी  हिरन  हो  गयी  हमने  सोचा  भी  नहीं  था  की  चाची   इतनी  अय्यास   होगी  और  तभी  वीरू  ने  उनके   सारे   कपडे  उतार  कर  उनको  एक   चेयर   पर  बैठा  दिया  और  उनकी  टांगे   फैला  दी  जिसे  की  उनकी  चूत    साफ   नज़र  आ   रही  थी  और  बोला   की   यहाँ  जंगल   क्यों  उगा   रखा  है  झांटे  क्यों  नहीं  बनाति   तुझे  मालूम  है  की  मुझे  झांटे  पसंद  नहीं  फिर  भी  चाची   बोली  की   कल  बना  लूँगि   आज  तो  तू  मेर्री  प्यास  बुझा  और  तब  वीरू  ने  उनकी  टाँगे  उठा   कर  एक  दमदा  धक्का   मार  और  चाची   बहुत  जोर  से  चिल्ला   पड़ी  ऊऊउइ  इ   ईईईईइस्स्स्स   साले  हरामी  आज    मारने    का   इरादा  है  क्या   कुत्ते  निकाल  ले  अपना  लौडा    मुझे  बहुत  दर्द  हो  रहा  है  आज  और  तब  वीरू  ने  उसकी  चूचियां  मुह  में  भरकर  चूसने  लगा  तब  चची  को  कुछ   राहत    हुई    और  थोड़ी  देर  बाद  दोनों  झड  गए   और  सुस्त  होकर  वहीँ  पर  नंगे  ही  सो  गए   और  ये  सीन  देख  कर  मेरा  और  मम्मी  का    दिमाग  भी  खराब  हो  चूका  था,कैसी लगी चाची की सेक्स स्टोरी , अच्छा लगी तो शेयर करना , अगर कोई मेरी चाची की चूत की चुदाई करना चाहते हैं तो उसे अब जोड़ना Facebook.com/SrimotiDebi

The Author

Kamukta xxx Hindi sex stories

astram ki hindi sex stories, hindi animal sex stories, hindi adult story, Antarvasna ki hindi sex story, Desi xxx kamukta hindi sex story, Desi xxx stories, hindi sex kahani, hindi xxx kahani, xxx story hindi, hindi sister brother sex story, hindi mom & son sex story, hindi daughter & father sex story, hindi group sex story, hindi animal sex story, sex with horse hindi story,
Hindi Sex Story & हिंदी सेक्स कहानियाँ © 2018 Hot Hindi Sex Story